कंगारू खिलाड़ियों ने बेहतरीन ढंग से प्‍लानिंग को दिया अंजाम की जीत हासिल

कंगारू खिलाड़ियों ने बेहतरीन ढंग से प्‍लानिंग को दिया अंजाम की जीत हासिल

ऑस्‍ट्रेलिया (Australia) पिछले वर्ष वर्ल्‍ड कप के बाद पहली बार वनडे मैच खेल रही थी व उनका सामना संसार की सबसे बेहतरीन वनडे टीमों में से एक हिंदुस्तान (India) से हिंदुस्तान में ही था।

इसके बाद भी उन्‍हें मैच जीतने में कोई कठिनाई नहीं हुई। उन्‍होंने हिंदुस्तान का सामना करने व यहां के दशा के हिसाब से पूरी प्‍लानिंग की। इसके बाद कंगारू खिलाड़ियों ने बेहतरीन ढंग से प्‍लानिंग को अंजाम दिया। बल्‍लेबाजी के दौरान जब शिखर धवन व केएल राहुल क्रीज पर थे तो हिंदुस्तान मजबूत लग रहा था। उसके 300 रन के पार जाने की आसार थी लेकिन यहां पर एरोन फिंच (Aaron Finch) ने पहलाा दांव चला।

जब केएल राहुल को एडम जंपा बॉलिंग कर रहे थे तब उन्‍होंने कवर में दो फील्‍डर- शॉर्ट कवर और एक्‍स्‍ट्रा कवर लगाए जिससे कि राहुल के कवर की दिशा में बनने वाले रन रूक जाए। इसके बाद विकेट की तलाश में उन्‍होंने एश्‍टन एगर का गेंदबाजी एंड बदला व आते ही उन्‍होंने राहुल को आउट कर दिया।
ऑस्‍ट्रेलिया के कप्‍तान एरोन फिंच ने टॉस जीतकर बॉलिंग चुनी व उनके गेंदबाजों ने निर्णय को ठीक साबित किया। ।

धवन के सामने कमिंस व कोहली के सामने जंपा

फिंच ने दूसरा विकेट लेने के बाद अपने बेस्‍ट तेज गेंदबाज पैट कमिंस को बुलाया व उन्‍होंने आते ही शिखर धवन को आउट कर दिया। कमिंस ने लैंथ बॉल से धवन को फंसाया। इस तरह से ऑस्‍ट्रेलिया को लगातार 2 ओवर में 2 विकेट मिल गए व उसने शिकंजा कस दिया। अब बल्‍लेबाजी के लिए विराट कोहली व केएल राहुल क्रीज पर थे। लेकिन कोहली के रनों को रोकने के लिए फिंच ने एडम जंपा को आक्रमण पर लगाया। जंपा ने पिछले एक वर्ष में कोहली को 3 बार आउट किया था। एक बार फिर से जंपा सफल रहे व उन्‍होंने अपनी ही गेंद पर कोहली को आउट कर दिया।
एडम जंपा टीम के साथ विकेट का जश्‍न मनाते हुए। 

एडम जंपा हिंदुस्तान में बहुत ज्यादा अच्‍छी गेंदबाजी कर रहे हैं। उन्‍होंने पिछले वर्ष सीरीज में 11 विकेट लिए थे व कंगारू टीम की ओर से विकेट लेने में पैट कमिंस (14) के बाद दूसरे नंबर पर रहे थे। मुंबई में मैच के दौरान अपने पहले स्‍पैल में भी जंपा ने रन देने में कंजूसी बरती थी। अनुभवहीन मिडिल ऑर्डर के सामने स्‍टार्क को लगाया
कोहली के आउट होने के बाद एरोन फिंच ने हिंदुस्तान के अनुभवहीन मिडिल ऑर्डर को देखते हुए मिचेल स्‍टार्क को वापस गेंदबाजी के लिए बुलाया। वे हिंदुस्तान में अपना दूसरा ही वनडे खेल रहे थे व आरंभ में उनकी बॉलिंग ठीक नहीं रही थी। ऐसे में उन्‍होंने क्रॉस लैंथ गेंद डालते हुए 148 किलोमीटर प्रतिघंटे की गति पर रोहित शर्मा को मिड ऑफ पर कैच आउट कराया। 33वें ओवर में वापस आने पर उन्‍होंने पहले श्रेयस अय्यर को परखा व फिर विकेट के पीछे एलेक्‍स कैरी के हाथों कैच करा दिया।

मिचेल स्‍टार्क गेंदबाजी करते हुए।

स्‍टार्क ने लिए 3 विकेट
इस तरह से फिंच ने जिस अंदाज में गेंदबाजी में परिवर्तन किए व उनके गेंदबाजों ने रणनीति को अंजाम दिया उसने हिंदुस्तान को बैकफुट पर ला दिया। हिंदुस्तान का स्‍कोर 1 विकेट पर 134 रन से 5 विकेट पर 164 रन हो गया। मिचेल स्‍टार्क ने आखिर के ओवर्स में लगातार यॉर्कर डाली व शार्दुल ठाकुर के रूप में उन्‍हें इनाम भी मिला। उन्‍होंने 10 ओवर के अपने कोटे में 56 रन दिए व 3 विकेट लिए।