टीम इंडिया वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल में अंपायरों से हुई थी यह बड़ी गलती

टीम इंडिया वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल में अंपायरों से हुई थी यह बड़ी गलती

 10 जुलाईये वो तारीख है जिसे भारत का कोई क्रिकेट फैन याद नहीं रखना चाहेगा। इस तारीख के दिन करोड़ों भारतीय फैंस का दिल टूटा था। आज ही के दिन एक वर्ष पहले टीम इंडिया वर्ल्ड कप 2019 (World Cup 2019) के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से पराजय गई थी। 

महज 240 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही टीम इंडिया , इस मैच में 221 रनों पर सिमटकर 18 रनों से मैच गंवा बैठी थी। नतीजा उसका तीसरी बार वर्ल्ड कप जीतने का सपना भी टूट गया था।

अंपायरों से हुई बड़ी गलती
जाहिर सी बात है सेमीफाइनल मुकाबले में (World Cup 2019) न्यूजीलैंड ने अच्छा व टीम इंडिया ने बेकार क्रिकेट खेला। लेकिन टीम इंडिया की पराजय की वजह कुछ व भी थी। दरअसल इस मैच में अंपायरों से एक ऐसी गलती हो गई थी, जिसका पता मैच के बाद चला। भारतीय पारी के 48वें ओवर में जब धोनी बल्लेबाजी कर रहे थे तो उस वक्त न्यूजीलैंड के 6 खिलाड़ी 30 गज के बाहर खड़े थे। जबकि नियमों के मुताबिक उस वक्त कीवी टीम के 5 ही खिलाड़ी सर्कल के बाहर खड़े हो सकते थे। ये बात अंपायर नहीं पकड़ सके व इसका खामियाजा टीम इंडिया को भुगतना पड़ा। अगर एक खिलाड़ी व अंदर होता तो होने कि सम्भावना है धोनी रन आउट भी ना होते। खैर होनी को कुछ व ही मंजूर था व धोनी को मार्टिल गप्टिल ने डायरेक्ट हिट मारकर रन आउट कर दिया था।

टीम इंडिया की बल्लेबाजी रही थी फ्लॉप
टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने सारे वर्ल्ड कप (World Cup 2019) में अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन सेमीफाइनल में सभी टैलेंटेड खिलाड़ियों की हवा निकल गई। केएल राहुल, रोहित शर्मा व विराट कोहली तीनों 1-1 रन बनाकर आउट हो गए। ऋषभ पंत ने 32 रन जरूर बनाए लेकिन वो बेहद ही बेकार शॉट खेलकर आउट हुए। हिंदुस्तान ने एक समय महज 92 रनों पर अपने 6 विकेट गंवा दिये थे। हालांकि इसके बाद धोनी व रवींद्र जडेजा ने 116 रनों की साझेदारी कर हिंदुस्तान को मैच में वापस ला खड़ा किया था। जडेजा ने 59 गेंदों में 77 रनों की पारी खेली थी। धोनी ने भी 50 रन बनाए थे। हालांकि आखिरी लम्हों में ये दोनों खिलाड़ी रन आउट हो गए और नतीजा टीम इंडिया वर्ल्ड कप से बाहर हो गई।