आपको भूलने की बीमारी से निजात दिलाएगा ये योगासन

आपको भूलने की बीमारी से निजात दिलाएगा ये योगासन

Dementia शब्द 'de' मतलब without व 'mentia' मतलब mind से मिलकर बना है। डिमेंशिया को आम बोल चाल में लोग भूलने की बीमारी के रूप में जानते हैं। लेकिन इसे पहचानने का केवल यही एक कारण नहीं है।

आपको भूलने की बीमारी से निजात दिलाएगा ये योगासन के लिए इमेज परिणाम

डिमेंशिया के अनेक गंभीर व चिंताजनक लक्षण होते हैं। यह अधिकांश 65 साल से अधिक आयु वाले लोगों को होती है। इसका अर्थ यह नहीं कि उससे कम आयु वाले लोगों को यह बीमारी नहीं छू सकती। कम आयु के लोगों में इसकी आरंभ अल्जाइमर नाम की बीमारी से होती है।

डिमेंशिया के दो कारण हो सकते हैं। पहला तो मस्तिष्क की कोशिकाओं का नष्ट हो जाना व दूसरा आयु के साथ मस्तिष्क की कोशिकाओं का निर्बल होना।

डिमेंशिया के लक्षण

- स्मरण शक्ति निर्बल हो जाना

- व्यक्तित्व में बदलाव
- नंबर जोड़ने-घटाने में दिक्कत
- छोटी-छोटी समस्याओं को भी न सुलझा पाना

योग से ऐसे होने कि सम्भावना है समाधान

प्राणायाम व ध्यान- प्राणायाम आपके मस्तिष्क के लिए बहुत लाभकारी है। सिद्धासन में बैठकर हर प्रातः काल व शाम 10 मिनट तक अनुलोम-विलोम करें व उसके बाद 10 मिनट तक ध्यान करें। इसे लगातार तीन महीने तक करते रहें।

सूर्य नमस्कार- सूर्य नमस्कार में लगभग प्रमुख आसनों का समावेश हो जाता है व आपके शरीर को तंदुरुस्त बनाए रखने में मददगार साबित होता है।