प्रेगनेंसी के दौरान रखे इस बात का खास ध्यान

प्रेगनेंसी के दौरान रखे इस बात का खास ध्यान

प्रेगनेंसी में कई बातो का ध्यान रखना पढता है व आज हम आपके साथ शेयर करने जा रहे है ऐसी ही एक जरुरी बात का. साबुन व शैंपू जैसे पर्सनल देखभाल के उत्पादों, डिब्बाबंद खाद्य व कई अन्य दैनिक उत्पादों के लंबे समय तक सम्पर्क में रहना गर्भपात का कारण होने कि सम्भावना है. कुछ फैथलेट्स जिनका इस्तेमाल इन उत्पादों को बनाने वाले कारखानों के कामगार ही नहीं, इनके सम्पर्क में आने वाले आम लोगों पर भी इसका असर पड़ता है.

ध्यान देने की बात ये है कि कुछ फैथलेट्स के उच्च स्तरों से सम्पर्क में रहने का गर्भपात से संबंध होने कि सम्भावना है. इनमें से कई उत्पाद रंग-रोगन, मेडिकल ट्यूब्स, विनायल फ्लोरिंग, साबुन, शैंपू व अन्य चीजों में शामिल होते हैं. इनके कम स्तर के कुछ मिश्रणों से लंबे समय तक सम्पर्क में रहना प्रयोगशालाओं के जीवों के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाता है व उनके गर्भपात के खतरे को बढ़ा सकता है. वैसे भी ये भी जरुरी बात है जिसकी व आपका ध्यान जाना जरुरी है वो ये किएक अध्ययन में पाया गया कि कारखानों में कार्य करने के कारण फैथलेट्स के उच्च स्तरों से सम्पर्क में आने वाली महिलाएं के गर्भपात का खतरा अधिक होता है. यह अध्ययन एंवयारमेंट साइंस एंड टेक्नोलोजी जर्नल में प्रकाशित हुआ.