आज होगा 'मैन वर्सेज वाइल्ड' शो का प्रसारण, पीएम मोदी के साथ नज़र आएंगे ये शख्स

डिस्कवरी चैनल (Discovery Channel) पर आज यानी सोमवार को 'मैन वर्सेज वाइल्ड' शो (Man vs Wild) का प्रसारण होगा. इस कार्यक्रम में होस्ट बेयर ग्रिल्स (बियर ग्रिल्स) के साथ पीएम नरेंद्र मोदी नजर आएंगे.

इस शो की शूटिंग कॉर्बेट नेशनल पार्क में हुई है. शूटिंग के सिलसिले में शो के होस्ट बेयर ग्रिल्स (Bear Grylls) के साथ पीएम नरेंद्र मोदी फरवरी में कॉर्बेट पार्क आए थे. इस शो को डिस्कवरी नेटवर्क के चैनलों पर संसार के 180 से अधिक राष्ट्रों में दिखाया जाएगा. तो चलिए जानते हैं कि आखिर ये बियर ग्रिल्स हैं कौन, जिनके साथ प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी आएंगे नजर।

दरअसल, बियर ग्रिल्स अपने शो में कीड़े-मकोड़े, सांप, जानवरों को खाने के लिए भी बहुत ज्यादा प्रसिद्ध रहे हैं. बियर ग्रिल्स अपने शो के दौरान कीड़े-मकोड़े, सांप आदि खाते रहते हैं. ये अपने शो के जरिए यह बताने की प्रयास करते हैं कि घने जंगल में किसी भी हालत में मौसम की हर मार झेलते हुए कैसे ज़िंदगी जिया जा सकता है. डिस्कवरी चैनल के पॉपुलर शो ‘Man vs Wild’ के बियर ग्रिल्स की प्रसिद्धि का इंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी से पहले उनके शो में बराक ओबामा भी दिख चुके हैं.

एडवर्ड माइकल ग्रिल्स यानी बियर ग्रिल्स (बेयर ग्रिल्स) का जन्म वर्ष 7 जून 1974 को ब्रिटेन में हुआ था. जन्मे बच्चे के पिता राजनेता, नाना क्रिकेटर थे. तब किसी ने शायद ही सोचा होगा कि यह लड़का आगे जाकर लोगों को सिखाएगा कि बीहड़ जंगलों, बर्फीले पहाड़ों में कैसे खुद को जिंदा रखा जाए. अब पीएम मोदी बेयर के साथ शो पर आ रहे हैं.

एडवर्ड माइकल ग्रिल्स यानी बियर ग्रिल्स एक टीवी होस्ट से पहले एक ब्रिटिश सैनिक के सर्विसमैन, सर्वाइवल प्रशिक्षक, व मानद लेफ्टिनेंट-कर्नल रह चुके हैं. अपने सैन्य कैरियर के अतिरिक्त वह एक साहसी, लेखक, टेलीविजन प्रस्तुतकर्ता व व्यवसायी हैं. जुलाई 2009 में ग्रिल्स को 35 वर्ष की आयु में यूनाइटेड किंगडम व ओवरसीज टेरिटरीज का सबसे कम आयुका चीफ स्काउट नियुक्त किया गया था.

बता दें कि आज प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ग्रिल्स के साथ नजर आएंगे. यह शो उत्तराखंड के जिम कॉर्बेट में शूट किया गया है. पीएम ने अपने ट्वीट में बोला कि हिंदुस्तान में हरे भरे जंगल, विविधतापूर्ण वन्यजीवन, सुन्दर पहाड़ियां व बड़ी नदियां हैं । इस प्रोग्राम को देखकर आप हिंदुस्तान के विभिन्न क्षेत्रों में उन स्थानों पर जाना चाहेंगे व पर्यावरण संरक्षण की पहल से जुड़ना चाहेंगे .