महेंद्र सिंह धोनी को मैदान पर वापसी का निर्णय खुद ही लेना है: रवि शास्त्री

महेंद्र सिंह धोनी को मैदान पर वापसी का निर्णय खुद ही लेना है: रवि शास्त्री

टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री के मुताबिक, महेंद्र सिंह धोनी को मैदान पर वापसी का निर्णय खुद ही लेना है. अगर वो खेलना चाहते हैं तो उन्हें इस बारे में चयनकर्ताओं को जानकारी देनी होगी. शास्त्री ने ये भी बोला कि दुनिया कप 2019 के बाद उनकी धोनी से मुलाकात नहीं हुई. ‘द हिंदू’ अखबार को दिए साक्षात्कार में शास्त्री ने ऋद्धिमान साहा को संसार का सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर बताया. ऋषभ पंत पर उन्होंने बोला कि वो अभी युवा हैं व उनके पास बहुत ज्यादा वक्त है. बुमराह की फिटनेस को टीम इंडिया के कोच ने फिक्र जाहिर की.

शमी शानदार गेंदबाज
मोहम्मद शमी के बारे में पूछे गए सवाल पर शास्त्री ने कहा, “उन्होंने व्यक्तिगत समस्याओं से उबरकर शानदार वापसी की. एक बल्लेबाज के तौर पर मैं उनका सामना कभी नहीं करना चाहूंगा. वो बहुत प्रतिभाशाली व मेहनती तेज गेंदबाज हैं. हिंदुस्तान में चौथी पारी में अगर कोई तेज गेंदबाज पांच विकेट लेता है तो ये वास्तव में शानदार प्रदर्शन है.” जसप्रीत बुमराह व हार्दिक पांड्या पर पूछे गए एक सवाल पर टीम इंडिया के हेड कोच ने कहा, “बुमराह की फिक्र है. वो बेशकीमती व मैच विनर हैं. उनकी सर्जरी पर विचार चल रहा है. वो तीनों फॉर्मेट खेलते हैं. हम उन पर पड़ने वाले वजन के बारे में भी सोच रहे हैं. पंड्या की सर्जरी पास रही. हम चाहते हैं कि वो सभी फॉर्मेट खेलें. दो हफ्तों में उनकी फिटनेस को लेकर चीजें साफ हो जाएंगी.”

रोहित व सहवाग, दोनों खतरनाक
टेस्ट क्रिकेट में रोहित शर्मा को बतौर ओपनर खिलाने पर शास्त्री खुश हैं. इस बारे में उन्होंने कहा, “ओपनिंग करना सरल नहीं होता. यह माइंडसेट का मुद्दा है. वीरेंद्र सहवाग व रोहित दोनों खतरनाक व विनाशकारी बल्लेबाज हैं. जो गेंदबाजों पर हावी होना पसंद करते हैं. रोहित जैसा बल्लेबाज बेंच पर बैठे, यह मैं कभी पसंद नहीं करूंगा. वेस्ट इंडीज में रोहित व विराट ने ओपनिंग को लेकर चर्चा भी की थी.”

धोनी महान
धोनी को लेकर हेड कोच ने सावधानी से जवाब दिया. कहा, “वो हमारे सर्वकालीन महान खिलाड़ियों में से एक हैं. वापसी पर निर्णय उन्हीं को करना है. दुनिया कप के बाद उनसे मुलाकात नहीं हुई. मुझे नहीं लगता कि वर्ल्ड कप के बाद उन्होंने क्रिकेट खेला है. पहले उन्हें खेलना प्रारम्भ करना होगा. इसकी जानकारी चयनकर्ताओं को देनी होगी.” साहा को शास्त्री ने संसार का सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर बताया. पंत की भी तारीफ की. कहा, “ऋषभ ने ऑस्ट्रेलिया व इंग्लैंड में टेस्ट शतक लगाए हैं. वो बहुत ज्यादा युवा हैं व उन्हें अपनी कीपिंग सुधारनी चाहिए. चार नंबर पर श्रेयस अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं.”