चाइना के राष्ट्रपति शी जिनपिंग 11 अक्टूबर को हिंदुस्तान के दो दिवसीय  दौरे पर आएंगे

चाइना के राष्ट्रपति शी जिनपिंग 11 अक्टूबर को हिंदुस्तान के दो दिवसीय  दौरे पर आएंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आमंत्रण पर चाइना के राष्ट्रपति शी जिनपिंग 11 अक्टूबर को हिंदुस्तान के दो दिवसीय दौरे पर आएंगे. चाइना के राष्ट्रपति व प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के बीच दूसरा अनौपचारिक शिखर सम्मेलन 11-12 अक्टूबर को हिंदुस्तान के चेन्नई में होगा. इससे पहले जिनपिंग व पीएम के बीच पहला अनौपचारिक शिखर सम्मेलन पिछले साल 27-28 अप्रैल को चाइना के वुहान में हुआ था.

इस दौरान दोनों राष्ट्रों के बीच द्विपक्षीय, क्षेत्रीय व वैश्विक संबंधी जरूरी मुद्दों पर चर्चा होने की आसार है. साथ ही, इस सम्मेलन से दोनों राष्ट्रों को आपसी संबंधों को मजबूत करने का अच्छा मौका मिलेगा. सूत्रों के अनुसार, कश्मीर पर हिंदुस्तान का रुख एकदम स्पष्ट है. अगर शी ने मुद्दा उठाया तो मोदी उन्हें हमारा पक्ष समझाएंगे.

एएनआई के सूत्रों के अनुसार, चाइना के राष्ट्रपति शी जिनफिंग की हिंदुस्तान यात्रा के दौरान किसी समझौते, किसी सहमति ज्ञापन अथवा संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किए जाने की आसार नहीं है, क्योंकि यह मीटिंग अनौपचारिक होगी. जिनफिंग के साथ उनके साथ विदेश मंत्री व कम्यूनिस्ट पार्टी के सीनियर नेता भी आएंगे. इसके अतिरिक्त प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी व चाइना के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच होने वाली बातचीत में टेररिज्म, टेरर फंडिग व सपॉर्ट जैसे मामले प्रमुख रहेंगे.

जानें क्या है पूरा कार्यक्रम

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग शुक्रवार को अपराह्न 13:20 बजे चेन्नई पहुंचेंगे. जिनपिंग निर्धारित प्रोग्राम यहां के गुइंडी स्थित एक होटल में पीएम नरेंद्र मोदी के साथ द्विपक्षीय तथा व्यापारिक मुद्दों पर वार्ता करेंगे, जिसको लेकर सुरक्षा के पुख्ता बंदोवस्त किये गये हैं. जिनपिंग के हवाई अड्डे पर पहुंचने के बाद पारंपरिक नृत्य तथा संगीत के जरिये उनका स्वागत किया जाएगा व इसके बाद वह 13:45 बजे होटल पहुंचेंगे.

चीन के राष्ट्रपति के आगमन के दौरान लगभग 10 से 15 मिनट तक हवाई अड्डे पर घरेलू या अंतर्राष्ट्रीय विमानों का परिचालन नहीं होगा. इसके लेकर विमान कंपनियों के अपनी उड़ानों के समय को पुनर्निधारित करने की सलाह दी गयी है.

जिनपिंग होटल में थोड़ी देर ठहरने के बाद सड़क मार्ग से चेन्नई से लगभग 55 किलोमीटर दूर महाबलीपुरम रवाना होंगे, जहां वह प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शाम पांच बजे 'अजुर्न पेनांस', पांच बजकर 20 मिनट पर पांच रथ तथा पांच बजकर 45 मिनट पर मशहूर शोर मंदिर जाएंगे. जिनपिंग यहां सांस्कृतिक समारोह में शामिल होने व जरूरी नेताओं से मुलाकात करने के बाद रात नौ बजे होटल लौट आएंगे.

चीन के राष्ट्रपति 12 अक्टूबर को प्रातः काल नौ बजे तटीय शहर रवाना हो जाएंगे, जहां पर वह प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ द्विपक्षीय बातचीत करेंगे. प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ भोजन करने के बाद जिनपिंग 1315 बजे चेन्नई लौट आएंगे व इसके बाद अपराह्न 14:20 चाइना रवाना हो जाएंगे.