लोग सेक्शुअल डिजायर को सैटिस्फाई करने के लिए क्यों लेते है कैजुअल सेक्स का सहारा, जाने

 लोग  सेक्शुअल डिजायर को सैटिस्फाई करने के लिए क्यों लेते है कैजुअल सेक्स का सहारा, जाने

आमतौर पर प्यूबर्टी और ऐडोलेसन्स ऐज में सेक्शुअल डिजायर डेवलप होने लगती है. बॉडी क्लॉक से ट्रिगर होने वाली यह चीज पहले जिज्ञासा के कारण आगे बढ़ती है लेकिन बाद में इसके लिए कई रीजन्स डिवलप हो जाते हैं.

सेक्स की इच्छा के पीछे कई कारण हो सकते हैं. सेक्स करने के पीछे की सबसे बड़ी वजह प्लेजर और सेक्शुअल डिजायर को सैटिस्फाई करना है. इसके लिए कई बार लोग कैजुअल सेक्स का भी सहारा लेते हैं.

एक स्टडी के मुताबिक, पुरुषों अपने पुरुषत्व को साबित करने और खुद को दूसरे पुरुष से बेहतर साबित करने के लिए भी सेक्स का सहारा लेते हैं. महिलाओं के मुकाबले पुरुषों में सेक्स को लेकर ज्यादा ओपन डिसकशन होता है, जिस वजह से उनमें यह साबित करने की ज्यादा होड़ होती है कि वह अपने पार्टनर को ज्यादा संतुष्ट करते हैं या ज्यादा प्लेजर इंजॉय करते हैं. रिलेशनशिप में सेक्स अहम रोल प्ले करता है. कपल प्यार को जाहिर करने के लिए फिजिकल इंटिमेसी इंजॉय करते हैं. कई बार सेक्स को कपल इमोशनल नीड्स को पूरा करने के लिए भी इस्तेमाल करते हैं. हालांकि, यह रिश्ते के लिए बिल्कुल भी हेल्दी नहीं होता है. पैसे कमाने के लिए भी सेक्स को यूज किया जाता है. यही वजह है कि कई देशों में कानूनी तो कई में गैरकानूनी तरीके से प्रॉस्टिट्यूशन होता है.

कई कपल्स के बीच में सेक्स असुरक्षा के भाव के कारण भी होता है. यह डर कि सेक्स न होने पर पार्टनर उन्हें चीट करेगा, इसके कारण भी लड़के व लड़कियां इच्छा न होने पर भी सेक्स में इन्वॉल्व हो जाते हैं. कई शादीशुदा कपल्स के बीच में सेक्स का मुख्य उद्देश्य परिवार बढ़ाना होता है. यही वजह है कि कई बार शादी के एक साल पूरा होने तक कपल पैरंट्स बन जाते हैं. शादी के बाद कपल्स पर परिवार को बढ़ाने का प्रेशर बढ़ जाता है. अगर दो-तीन साल तक बच्चा न हो तो रिश्तेदार भी इस सवाल को पूछने से हिचकिचाते नहीं है कि कपल बेबी कब प्लान कर रहा है. इस प्रेशर के साथ ही मेल्स के बीच पीयर प्रेशर भी ज्यादा होता है. अगर ग्रुप के दोस्त सेक्शुअली ऐक्टिव हैं और वे इस बारे में आपस में डिसकस करें तो यह स्थिति उसके लिए असहज हो जाती है जो सेक्शुअली ऐक्टिव नहीं है. इस वजह से कई बार लड़के अनहेल्दी सेक्शुअल रिलेशनशिप में भी फंस जाते हैं.