हम आपको बता रहे हैं 2019 में हुए चुनावों में भाजपा को मिली उपलब्धियों और झटकों के बारे में...

हम आपको बता रहे हैं 2019 में हुए चुनावों में भाजपा को मिली उपलब्धियों और झटकों के बारे में...

साल 2019 इतिहास के पन्नों में दर्ज होने की ओर बढ़ रहा है। अब महज कुछ ही दिन बचे हैं जब नए साल का आगाज हो जाएगा और साल 2019 इतिहास के पन्नों में दर्ज होकर रह जाएगा।

साल 2019 भाजपा के लिए एक यादगार साल रहेगा। इस साल हुए लोकसभा चुनाव में एक बार फिर मोदी मैजिक चला और पिछली बार से ज्यादा सीटें जीतकर भाजपा फिर सत्ता पर काबिज हुई। 2018 में तीन राज्यों राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में मिली हार के बाद पीएम मोदी का मनोबल गिरा नहीं और उन्होंने पूरे जोश और उत्साह के साथ लोकसभा चुनाव में धमाकेदार अंदाज में वापसी कर इतिहास रच दिया।

हलांकि इसी साल दो राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा को अपेक्षित नतीजे नहीं मिले। देश के दो राज्यों महाराष्ट्र और हरियाणा में इस साल चुनाव हुए। यहां एक बार फिर पिछले साल की तरह मोदी मैजिक को झटका लगा। देश के बड़े राज्यों में से एक महाराष्ट्र में तो भाजपा को सत्ता भी गंवानी पड़ी। वहीं हरियाणा में खट्टर सरकार की वापसी तो हुई लेकिन पूरे दमखम के साथ नहीं। 2019 में नरेंद्र मोदी का जादू फिर मतदाताओं के सिर चढ़कर बोला। आम चुनाव में भाजपा ने प्रचंड बहुमत हासिल कर सियासी पंडितों को भी चौंका दिया। भाजपा को इस साल 303 सीटों पर जीत मिली जबकि 2014 में उसने 282 सीटें जीती थीं। इसी के साथ नरेंद्र मोदी, जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी के बाद तीसरे व पहले गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री बन गए जिन्होंने सत्ता में रहते हुए पूर्ण बहुमत की दोबारा सरकार बनाई। पीएम मोदी ने एक बार फिर वाराणसी से चुनाव लड़ा और चार लाख 79 हजार 505 वोटों से जीते।