नए वायरस का हुआ हमला, दे इन खास बातो पर ध्यान

नए वायरस का हुआ हमला, दे इन खास बातो पर ध्यान

दुनिया में एक नए वायरस का हमला हो चुका है। ये हमला इतना खतरनाक है कि इससे अब तक 9 लोगों की मृत्यु हो चुकी है व लगभग 400 से ज्यादा लोग संक्रमित हैं। खतरे का अंदेशा सिर्फ इस एक बात से लगाया जा सकता है कि अमेरिका समेत संसार के सभी देश इससे घबराए हुए हैं। चाइना के वुहान शहर में इस नए वायरस का जन्म हुआ है। दुनिया स्वास्थ्य संगठन ने इस वायरस का नाम कोरोनावायरस (coronavirus) रखा है। वैसे इस संक्रमण का उपचार किसी भी दवा से नहीं हो पा रहा।

क्यों है सभी देश चिंतित
अमेरिका समेत संसार के सभी देश इस वायरस से परेशान हैं। दरअसल चाइना के नागरिक अपने नए वर्ष के जश्न के लिए पूरी संसार में घूमने निकलते हैं। अनुमान है कि इस वर्ष चाइना से लगभग 70 लाख लोग पूरी संसार में छुट्टी मनाने के लिए जाएंगे। ऐसे समय में नए वायरस के संक्रमण का खतरा व बढ़ गया है। हालांकि अमेरिका, इंग्लैंड, जापान व हिंदुस्तान समेत सभी राष्ट्रों ने अपने एयरपोर्ट्स को हाई अलर्ट में रखते हुए जाँच प्रारम्भ कर दिया है। लेकिन फिर भी हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि मौजूदा स्क्रीनिंग भी इस वायरस को देश में घुसने से नहीं रोक सकते।

नहीं बनी है रोकथाम की दवा
दुनिया स्वास्थ्य संगठन (World Health Orgnaization) का बोलना है कि दो सप्ताह पहले इस नए संक्रमण के पता चलने के तुरंत बाद से ही पूरी संसार के बड़े लैब्स में इसकी जाँच चल रही है। इस कोरोनावायरस से वैसे कोई भी दवा बचाव नहीं कर सकती है। डॉक्टरों का बोलना है कि इस वायरस के नए टीके तैयार होने में भी लगभग 2-3 सप्ताह का समय लग सकता है। लेकिन जिस तेजी से इसका संक्रमण फैल रहा है उसे देखते हुए खतरा जल्दी टलता नजर नहीं आ रहा।

इससे पहले भी वायरस का पूरी संसार में हो चुका है अटैक
लगभग 18 वर्ष पहले सार्स संक्रमण (SARS Virus) भी ऐसा ही खतरा बना था। 2002-03 में सार्स संक्रमण की वजह से पूरी संसार में 700 से ज्यादा लोगों की मृत्यु हुई थी। जबकि पूरी संसार में हजारों लोग इससे संक्रमित हुए थे।