सिद्धार्थ पिठानी ने ही सबसे पहले देखी थी सुशांत की डेडबॉडी; रिया के विरूद्ध बोल रहे थे, अब पलट गए

सिद्धार्थ पिठानी ने ही सबसे पहले देखी थी सुशांत की डेडबॉडी; रिया के विरूद्ध बोल रहे थे, अब पलट गए

पिछले दिनों सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी ने आरोप लगाया था कि एक्टर की फैमिली उन पर रिया चक्रवर्ती के विरूद्ध बयान देने का दबाव बना रही है. इस पर सुशांत के फैमिली लॉयर विकास सिंह ने कड़ी रिएक्शन दी है. उनकी मानें तो 25 जुलाई तक सिद्धार्थ खुद सुशांत के परिवार को रिया के विरूद्ध जानकारी दे रहे थे. लेकिन उसके बाद उसका व्यवहार बदल गया.

एक अंग्रेजी अखबार से वार्ता में विकास ने कहा, "25 जुलाई तक वह परिवार के सम्पर्क में था व यह कहते हुए मदद की प्रयास कर रहा था कि सुशांत के साथ जो हुआ, उसके लिए रिया चक्रवर्ती जिम्मेदार है. आकस्मित से उसका व्यवहार बदल गया. मुझे नहीं पता कि क्या हुआ? लेकिन उम्मीद है कि पुलिस जल्दी ही मुद्दे की तह तक जाएगी व पता लगा लेगी कि इस केस में पिठानी की क्या किरदार है व उनके पास ऐसी कौन-सी जानकारी है, जो उन्होंने साझा नहीं की."

सिद्धार्थ पिठानी का आरोप

रिया चक्रवर्ती ने उच्चतम न्यायालय में एक याचिका दायर कर अपने विरूद्ध पटना में दर्ज केस को मुंबई शिफ्ट कराने की अपील की है. इसमें उन्होंने यह दावा किया है कि सिद्धार्थ पिठानी ने मुंबई पुलिस को मेल कर सुशांत के परिवार द्वारा उन पर दबाव बनाए जाने की बात कही है. सिद्धार्थ मेल के मुताबिक, सुशांत के फैमिली मेंबर्स व एक सीनियर आईपीएस ने उन्हें कॉल किया. 22 व 27 जुलाई को ये कॉल आए व उनसे बोला गया कि वे अपने बयान में सुशांत के अकांउट से रिया द्वारा 15 करोड़ रुपए के ट्रांजेक्शन की बात कहें.

पिठानी ने रिया को मेल भेजा, उनकी विश्वसनीयता पर संदेह: सिंह

सिद्धार्थ के मेल को लेकर विकास सिंह कहते हैं, "यह बहुत ही सरप्राइजिंग है. अगर यह मेल मुंबई पुलिस को किया गया था तो फिर रिया तक कैसे पहुंचा? जब यह मेल पब्लिक रोशनी में आया, तब तक रिया को एक एफआईआर में आरोपी बनाया जा चुका था. इसलिए इस बात पर सवाल ही नहीं उठता कि यह पुलिस ने उनके साथ साझा किया है. अगर पिठानी ने यह रिया को भेजा था तो फिर उनकी विश्वसनीयता पर शक है."

'सिद्धार्थ ने ही सबसे पहले देखी थी सुशांत की डेड बॉडी'

विकास सिंह ने आगे पिठानी को घेरते हुए कहा, "यह लड़का (सिद्धार्थ) सुशांत के साथ ही रहता था व इसने ही सबसे पहले उनकी डेड बॉडी देखी थी. इसलिए जब उन्होंने दरवाजा बंद पाया तो उन्होंने उसे तब तक नहीं खोला, जब तक कि उनकी बहन नहीं आ गई. उसने डेढ़ घंटे तक इंतजार किया."

मुझे इस 15 करोड़ के बारे में कोई जानकारी नहीं : सिद्धार्थ
शुक्रवार को ANI से वार्ता में सिद्धार्थ ने बोला था, "सुशांत के फैमिली मेंबर्स ने मुझे बताया कि रिया ने 15 करोड़ रुपए का ट्रांजेक्शन किया है व मुझे अपने बयान में इसे शामिल करने को कहा. मैंने उन्हें जवाब दिया कि मैं सिर्फ वही कहूंगा, जो मैं जानता हूं व जिस पर मुझे यकीन है.

मैं उनसे सुशांत की मृत्यु के बाद मिला था. लेकिन आकस्मित आए इस परिवर्तन के बारे मैं नहीं जानता. इसके बाद मैंने पुलिस सम्पर्क किया व सबकुछ बता दिया. उन्होंने मुझे ईमेल एड्रेस दिया व जानकारी साझा करने को कहा. मैंने पुलिस को बताया कि सुशांत की फैमिली मुझे कुछ इस तरह का बयान देने के लिए कह रही है. काश कि मैं सच में इस ट्रांजेक्शन के बारे में जानता होता. मैं बयान दे देता. मुझे इस 15 करोड़ के बारे में कोई जानकारी नहीं है."